किसी भी महिला को अगर गलती से भी बोल दिये ये 2 शब्द, तो पुरुष की जिंदगी नर्क बन जाती है

0
47

चाणक्य नीति में कई ऐसे किस्से बताये गये हैं. जिन पर आज भी व्यक्ति विश्वास करता है. व्यक्ति भले ही चाणक्य नीति को माने ना लेकिन उनके नियमों को झूठ नहीं बता सकता है. चाणक्य की बातें पत्थर की लकीर जैसी सत्य साबित हुई हैं. चाणक्य नीति में बताया गया है कि पुरुषों द्वारा महिलाओं को 2 शब्द बोलने पर उसकी जिदंगी नर्क बन जाती है. चाणक्य का कहना है कि पुरुष महिला से लड़ाई-झगड़ा कर लें उससे भी उसे दुख नहीं होता है लेकिन महिला को ये 2 शब्द बोलने से उसे बहुत दुख होता है और जो व्यक्ति महिलाओं की इज्जत करना नहीं जानता, उन्हें गलत नजर से देखता है वो व्यक्ति कभी खुश नहीं रह सकता है.

बांझ-

किसी महिला के संतान ना होने पर उसकी गलती नहीं होती है. उसे शारीरिक रूप से या फिर किसी वजह से उसे संतान का सुख नहीं मिल पाता है. ऐसे में उस महिला को भूलकर भी बांझ नहीं कहना चाहिए, क्योंकि अगर उस महिला ने एक बाद अपने मुंह से बद्दुआ निकाल दी तो व्यक्ति बर्बाद हो जायेगा.

वेस्या-

दुनिया में आये हर व्यक्ति को अपना पेट भरने के लिए कमाना पड़ता है, उसे चाहे उसकी मजबूरी समझा जाये या फिर जरूरत…कुछ महिलाएं भी शौक में वेस्या का काम नहीं करती हैं बल्कि उसके पीछे उनका परिवार या खुद की जिम्मेदारी हो सकती है, जिसकी वजह से उन्हें वेस्या का काम करना पड़ता है. ऐसे में उस महिला को वेस्या के नाम सुनना बिल्कुल पसंद नहीं होता है. ये उनकी मर्जी है उन्हें उनके हाल पर छोड़ दें अन्यथा हो सकता है उसके जुबान से आपके लिए कोई बद्दुआ निकल जाए और सारी जिंदगी आपको भुगतना पड़ सकता है.

LEAVE A REPLY