सिर्फ ये एक पत्ता किडनी को स्वस्थ्य रखने में चमत्कारी साबित हो रहा है, कई लोग कर चुके इस्तेमाल

0
34

ठीक ढंग से खान-पान ना होने की वजह से कम उम्र में ही बीमारियां व्यक्ति को घेर लेती हैं, जिसमें ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, बाल सफेद होना, किडनी जैसी बीमारियां तो आम हो गई हैं. 30 से 35 साल का व्यक्ति इन बीमारियों की चपेट में आ जाता है. कई बार इन खतरनाक बीमारियों का इलाज घर में ही मौजूद होता है. कहते है ना कि जब दवा काम नहीं करती है तो दुआं काम करती है ऐसा ही हाल कुछ इन बीमारियों का है. किडनी इन में ऐसी बीमारी है जिसका इलाज मात्र एक पत्ता है, जो लोग इन बीमारी का खर्च नहीं उठा पाते हैं वो इस रामबाण पत्ते का सेवन जरूर करें और फिर फर्क देखिये. ये पत्ता किडनी के मरीज को जल्द स्वस्थ्य करने में रामबाण साबित हो रहा है.

विकासशील देशों में उच्च लगत, संभावित समस्याओं और उपलब्धता की कमी के कारण किडनी फेल्योर से पीड़ित सिर्फ 5-10% मरीज ही डायालिसिस और किडनी प्रत्यारोपण का उपचार करवा पाते हैं. ऐसे में कई लोग घरेलू उपचार की मदद लेते हैैं. जिसमें आम का पत्ता सबसे ज्यादा लाभकारी माना जाता है. आम के पत्तों में कैफीक एसिड जैसे फिनॉलिक, मैगीफेरिन जैसे पॉलिफिनॉल्स, गैलिक एसिड, फ्लेवोनोइड्स और कई अस्थाई यौगिक पाये जाते हैं. ये सभी गुण आम को अच्छा एंटी-डायबिटीक, एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी-एलर्जिक प्राकृतिक उत्पाद बनाते हैं.

आम की पत्तियों में हाइपोटेंसिव और टैनिन नामक तत्व पाए जाते हैं जो हमें कई बीमारियों से बचाते हैं. साथ ही इन पत्तियों में एंटीऑक्सीडेंट्स, विटामिन C और फाइबर पर्याप्त मात्रा में पाए जाता हैं. इनसे खासकर किडनी, लिवर, हार्ट और डायबिटीज की बीमारी कंट्रोल की जा सकती है. इन बीमारियों के मरीज एक बार आम के पत्ते का सेवन कर जरूर देखें.

LEAVE A REPLY