दीवाली में छछूंदर दिखे तो मालामार, काट ले तो उतना हिस्सा गायब और अगर व्यक्ति के चारों तरफ चक्कर काट ले छछूंदर तो…

0
49

भारत को ऐसे ही नहीं अनोखा और रहस्यमीय देश कहा जाता है, यहां की कई मान्यताओं ने लोगों को लोगों को सोच में डाल दिया है. अब इसे अंधविश्वास या सच्ची बात मानना आपके ऊपर है लेकिन आज हम आपको छछूंदर की मान्यता बताने जा रहे हैं. कई महिलाओं का मानना है कि दीवाली के दिन छछूंदर को देखना बहुत शुभ माना जाता है. छछूंदर धन-दौलत की प्राप्ति संकेत देता है. बाकी दिनों में छछूंदर को देखते ही लोग भागने लगते हैं, क्योंकि ये किसी खतरनाक जानवर से कम नहीं है.

जी हां…चूहे की आकृति में बना छछूंदर चूहे और सांप तक को खाने की क्षमता रहता है. अगर आपके घर में छछूंदर दिख जाये तो इन बातों को जरूर गौर करें.

बताया जाता है कि छछूंदर जिस व्यक्ति के चारों तरफ परिक्रमा लगा दें उसे मालामार होने से कोई नहीं रोक सकता है और उसके घर में आने से विपत्ति भी खत्म हो जाती है, हालांकि साफ-सफाई वाले दिन घरों में छछूंदरों का आना मुश्किल होता है लेकिन अगर भाग्यशाली व्यक्ति है तो उसे दीवाली के दिन छछूंदर के दर्शन जरूर होते हैं.

घर में छछूंदर आने से कीड़े-मकोड़े और चूहे नजर नही ंआते हैं. वहीं छछूंदर दिखने में गंदे लगते हैं लेकिन इनके होने से बैक्टीरिया नहीं होते हैं, क्योंकि ये खा जाते हैं.

चूकि छछूंदर नाले और गंदी जगह से आते हैं इसलिए घर में खाने-पीने की चीजों को उनसे बचाकर रखना चाहिए. इसके अलावा उनके गिल्लटियों में विष होता है अगर वो व्यक्ति के किसी भी अंग पर लग जाये तो उतना हिस्सा खत्म हो जाता है. छछूंदर के काटने से जहर शरीर में फैलने लगता है और बाद में व्यक्ति को लकवा भी मार जाता है.

उपाय

छछूंदर को भगाने के लिए घर के हर कोनों में रूई में पिपरमेंट को लेकर रख दें.
पुदीने की पत्ती या फूल को लेकर कूट लें और इसे छछूंदर के बिल के पास या आने वाली जगहों के पास रख दें.
लालमिर्च के पाउडर को छछूंदर के आने जाने वाली जगह पर रख दें.

 

LEAVE A REPLY