हिंदुस्तान की इस जगह आती हैं दुनियाभर से महिलाएं, पैसे देकर होती हैं प्रेग्नेंट, वजह कर देगी दंग

6
116

इंसानों की बात करें तो उन्हें कई धर्मों और जाति से बांट दिया गया है, लेकिन जहां तक इंसानों की बनावट एक ही जैसी होती है लेकिन आज हम आपको एक ऐसे इंसान की प्रजाति से रू-ब-रू कराने जा रहे हैं जिनकी संख्या अब बढ़ती जा रही है और महिलाएं इस अलग प्रजाति के लोगों से गर्भवती होना चाहती हैं. अगर इतिहास आपको याद हो तो ये वहीं प्रजाति के लोग हैं जिनकी हिटलर ने हत्या करवा दी थी.

हम आर्यन नस्ल की बात कर रहे हैं जो दुनियाभर में सबसे प्योर ब्लड के रूप में जाने जाते हैं. इनकी स्किन लाइट, सफेद बाल और नीली आंखें होती हैं. जनजाति में इन्हें ब्राकपा नाम से जाना जाता है, देखा जाये तो इनकी वेशभूषा आम इंसानों की तुलना में अलग होती है. ऐसा भी माना जाता है कि इन जनजाति के लोग एलेंक्जेंडर आर्मी से ताल्लुक रखते हैं, जो कि वापिस लद्दाख में आ गये थे.

विषेशज्ञों का मानना है कि ये लोग आर्यन हैं और इिनकी ब्लड लाइन भी बिल्कुल प्योर है. ब्राकपा जाति के लोग अपने पूर्वजों और आनुवांशिक विशिष्टता पर गर्व महसूस करते हैं. बताया जाता है कि यहां सन 1991 में इस प्रजाति के केवल 1900 लोग बचे थें और इन्होंने खुद को दुनिया से अलग कर अपना समुदाय बनाया हुआ है. और यहां अन्य किसी भी प्रजाति की आने की इजाजत नहीं है. इतना ही नहीं यहां तो टूरिस्ट को भी आने की अनुमति नहीं है.

वहीं दूसरी ओर सरकार ने इस जगह को टूरिज्म के लिए खोल दिया है जिसकी वजह से यहां आने और इन लोगों को देखने के पर्यटक हमेशा उत्तसुक रहते हैं. आपको ये जानकर हैरानी होगी की पूरे दुनियाभर से यहां महिलाएं आती है और वो यहां के स्थानीय लोगों से प्रेगनेंट होती हैं ताकि उनके बच्चे प्योर ब्लड यानि की आर्यन के वंश की तरह दिखें और वो उनके वंश को आगे बढ़ाना चाहती है.

6 COMMENTS

LEAVE A REPLY