हेड कोच रवि शास्त्री ने माना- रोहित-विराट के बीच हैं मतभेद.. लेकिन ये टीम के लिए अच्छा है

39
143

वर्ल्ड कप के बाद से ही कप्तान विराट कोहली और उपकप्तान रोहित शर्मा के बीच मतभेद की खबरें लगातार आती रही हैं. खुद कप्तान विराट कोहली तक इसे खारिज कर चुके हैं मगर अब दोबारा कोच बने रवि शास्त्री ने साउथ अफ्रीका दौरे से ठीक पहले बड़ा खुलासा किया है. रवि शास्त्री ने साफ साफ कहा है कि हां, दोनों के सोचने का तरीका अलग है, दोनों अलग-अलग राय रखते हैं लेकिन ये टीम के लिए अच्छा है. अब शास्त्री ने मतभेद को मान तो लिया लेकिन क्यों कहा ये टीम के लिए अच्छा है, आपको बताते हैं ।

तो क्रिकेट जगत की सबसे बड़ी खबर यही है कि कोच रवि शास्त्री ने मान लिया है कि रोहित और विराट के बीच संबंध पूरी तरह से अच्छे नहीं हैं और दोनों के बीच मतभेद हैं. रवि शास्त्री ने गल्फ न्यूज़ को दिये एक इंटरव्यू में कहा कि हां, दोनों के मतों में भिन्नता है. विराट अलग तरीके से सोचता है और रोहित अलग तरीके से सोचता है. दोनों का नज़रिया भी हर बार अलग होता है और दोनों के मैच खेलने का तरीका भी अलग होता है. शास्त्री ने ये भी कहा कि जब विराट कप्तानी करता है तो अपने मुताबिक गेम को चलाता है और रोहित कप्तानी करता है, तो उसका गेम चलाने का तरीका अपना अलग है,, कई बार टीम को लेकर भी दोनों की राय अलग अलग होती है. लेकिन साथ ही रवि शास्त्री ने ये भी कहा कि लेकिन दोनों के बीच ये भिन्नता और अलग-अलग मत टीम के लिए फायदेमंद हैं. रवि शास्त्री ने कहा कि टीम के सभी 15 खिलाड़ी एक जैसा नहीं सोच सकते है, इसलिये अलग अलग सोच हो तो उससे टीम को फायदा होता है. रवि शास्त्री ने कहा कि सभी को अपनी राय रखने का हक है और फिर उसमें से फैसला किया जाता है कि सबसे अच्छा क्या है और क्या फैसला लेना है।

यानि अब कोई कुछ भी कहे लेकिन गल्फ न्यूज़ को दिये इंटरव्यू में रवि शास्त्री ने साफ साफ कर दिया कि टीम के अंदर रोहित और विराट की राय बिल्कुल अलग होती है और यहां तक कि प्लेइंग इलेवन को लेकर भी दोनों अलग अलग सोचते हैं. मतलब साफ है कि दोनों के बीच विवाद टीम के फैसलों को लेकर है और दोनों के बीच विवाद पूरी तरह से सच है.  अब हालांकि कोच इसे अलग-अलग राय कहें मगर सच तो यही है कि जब रोहित शर्मा की बात नहीं मानी जाती है तब रोहित टीम मैनेजमेंट यानि कोच और कप्तान से नाराज़ होते हैं तो कुल मिलाकर रोहित और विराट के कप्तानी करने का और गेम चलाने का तरीका अलग है और इसे कोच ने भी माना है ।

39 COMMENTS

  1. This is really interesting, You are a very skilled blogger. I have joined your rss feed and look forward to seeking more of your fantastic post. Also, I ave shared your website in my social networks!

LEAVE A REPLY