जिस घर में दुल्हन पहली साल में ही कर लेती है ये काम वहां बढ़ जाती हैं पति की परेशानियां

1
155

शादी सिर्फ पति-पत्नी के बीच का ही रिश्ता नहीं होता है, बल्कि दो परिवारों के बीच की खुशियां भी होती हैं. शादी होकर जिस घर में नई दुल्हन जाती है उसकी खुशियों का ख्याल रखना ही उसकी सबसे बड़ी जिम्मेदारी हो जाती है. ऐसे में कोई दुल्हन नहीं चाहती है कि उसके घर में कोई बुरी बांधा आये जो उसके परिवार के लिए परेशानी बन सके और ये बांधायें भी तब आती हैं जब दुल्हन पहली साल में ये काम करती है. दुल्हन के ऐसे काम करने पर उसके पति के साथ घर के सदस्यों की परेशानी बढ़ जाती है. जानिए क्या हैं वो काम….

  1. शादी के पहले साल में अगर नई दुल्हन अधिकमास (जिस मास में सूर्य की संक्रांति नहीं होती है उस मास को अधिकमास माना जाता है) में अपने पति के घर में साथ रहती है तो ये उसके पति का नुकसान हो सकता है.
  2. शादी के पहले साल में अगर नई दुल्हन क्षय मास (जब दो अमावस्याओं के बीच मे दो सक्रांतियां पड़ती हैं तो एक क्षयमास माना जाता है) में अपने पति के घर में रहती है तो वो उसके नुकसान हो सकते हैं.
  3. शादी के बाद नई दुल्हन को पहले ज्येष्ठ माह (ज्येष्ठ चंद्र मास का तीसरा महीना होता है चैत्र और वैशाख मास के बाद आता है. अंग्रेजी कैलेंडर में, यह अक्सर मई और जून के महीने में आता है) में अपने पति के घर नहीं रहती है तो उसके जेठ पर परेशानी आ सकती है.
  4. शादी के पहले साल में अगर नई दुल्हन पौष मास (हिंदू कैलेंडर में साल के दसवें माह का नाम पौष है) में अपने पति के साथ रहती हैं तो उसके ससुर पर परेशानी आ सकती है.
  5. शादी के पहले साल में अगर नई दुल्हन आषाढ़ मास (साल का चौथा महीना) में अपने पति के साथ रहती हैं तो उसकी सास पर परेशानी आ सकती है..

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY