कैंसर रोगियों के लिए इस जानवर की टॉयलेट रामबाण है, यकीन ना हो तो खुद ही देख लो

1
53

पुरुषों में गला, फेफड़ों, मुँह, प्रोस्टेट, खाने की नली, जीभ, आवाज की नली और ओरल कैंसर होता हैं और महिलाओं में गर्भाशय, ब्रेस्ट, पित्ताशय, मस्तिष्क और थायराइड के कैंसर की शिकायत दिन प्रति दिन बढ़ती जा रही है. वैसे तो इस भंयकर और जानलेवा बीमारी का इलाज करवाना हर किसी के बस की बात नहीं है, लेकिन ये सोचकर हम अपनी जिंदगी को मौत के हवाले छोड़ भी नहीं सकते हैं. यही बात सोचकर लोग कुछ छोटे-मोटे नुस्खों को भी अपनाना ठीक नहीं समझते हैं, जो कई बार लोगों के लिए रामबाण साबित हो चुके हैं.

कैंसर के सेल्स शरीर में अच्छे सेल्स के काम में रुकावट डालते हैं. कैंसर सेल्स शरीर में नये बीमार सेल्स बनाते हैं और जिस अंग में ये सेल्स बनते हैं उस अंग का कामकाज प्रभावित होने लगता हैं. कैंसर के मरीज हर रोज शाम में हल्दी वाला दूध पीकर कैंसर के गुणों को कुछ हद तक खत्म कर सकते हैं.

इसके अलावा गोमूत्र  भी कैंसर के रोगियों के लिए किसी रामबाण से कम नहीं है. दूसरे या तीसरे दिन गोमूत्र का पानी के साथ सेवन जरूर करें. गोमूत्र कई रोगों में फायदेमंद होता है.

कैंसर के मरीजो को तांबे के बर्तन में पानी पीना चाहिए| इसके लिए आप तांबे के लोटे में रात भर पानी रख दे और सुबह खाली पेट पानी पी ले. इसके अलावा आप ग्रीन टी का इस्तेमाल करे. इससे आपको लाभ मिलेगा. आप नियमित रूप से धूप ले.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY