Bhaiyyu Maharaj Death: मां ने बताया कि भय्यू को अकेला देख वो लड़की उनके बेडरूम में नहाने तक आ जाती थी

0
24

13 जून 2018 को भय्यू महाराज उर्फ उदयसिंह देशमुख की हुई मौत की मिस्ट्री सुलझने की वजाये उलझती जा रही है. खबरों के अनुसार पता चला था कि भय्यू की मौत उनकी बेटी के कमरे में हुई थी. जहां उन्होने दोपहर के समय में आराम करने के लिए गये थे लेकिन वहां उन्होंने कनटपी पर लाइसेंसी रिवॉल्वर गोली मार ली थी. कमरें में बेसुध अवस्था में भय्यू का शव मिलने से घर में उपस्थित नौकर उन्हें फौरन अस्पताल ले गये लेकिन उससे पहले ही भय्यू महाराज की मौत हो चुकी थी. महाराज के जेब में एक सुसाइट नोट भी मिला जिसमें वादार विनायक को मौत के बाद सारे प्रमुख दायित्व सौंपे जाने की बात भी लिखी थी। अब आत्महत्या का मामला यहीं पर उलझता जा रहा था कि घर में पत्नी, मां होते हुए भी विनायक का नाम क्यों लिखा था. वहीं अब मां ने भी भय्यू की मौत के बाद बड़ा बयान दिया है.

मां ने बताया कि एक लड़की काम के सिलसिले में भय्यू से मिलने आई थी भय्यू ने उसे काम पर रख लिया था. भय्यू के सीधेपन का फायदा उठाते हुए लड़की ने भय्यू पर डोरे डालना शुरू कर दिया था. धीरे-धीरे वो भय्यू के इतने नजदीक आ गई थी कि वो भय्यू के बेडरूम में रहने लगी थी उनकी अलमारी में अपना सामान रखने लगी थी. इतना ही नहीं कभी-कभी तो भय्यू के रूम के बाथरूम में नहाने भी आ जाती थी और ये सब विनायक और शेखर करवा रहे थे. उस लड़की के साथ विनायक और शेखर का हाथ हैं भय्यू की हत्ता में….

मां का कहना है कि मेरे बेटे की मौत हो गई और मुझे रात तक क्यों नहीं खबर दी गई थी. इन तीनों लोगों की पहले से ही भय्यू की हत्या पर साजिश थी. मां ने बताया कि विनायक और शेखर जानबूझकर उस लड़की को भय्यू के करीब भेजते थे. जानबूझकर उसका कोई फोन आता था तो भय्यू के कान में लगा देते थे. इतना ही नहीं एक दिन तो भय्यू पाठ के लिये निकलते थे लेकिन शेखर ने कह दिया कि भय्यू उस लड़की के साथ घूमने गये हैं. जिसके बाद में शेखर की खूब फटकार लगाई थी, उसके बाद शेखर मेरे पास किसी काम से भी नहीं आता है. सीएसपी अगम जैन के मुताबिक जल्द ही कुमुदनी, आयुषषी और कुहू के बयान लिए जाएंगे।

 

LEAVE A REPLY