हर रात लड़की के गालों में आ जाती थी सूजन, जांच के बाद डॉक्टर ने जो बताया उसे सुनकर हर कोई हैरान रह गया

1
51

डॉक्टरों के सामने कभी-कभी ऐसे मरीज आ जाते हैं कि उनकी हालत के बारे में जानकर डॉक्टर भी हैरान रह जाते हैं. भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर अपने मरीज को बचाने के लिए हर समभव कोशिश करता है लेकिन तब क्या होता है, लेकिन जरा सोचिए तब क्या होता होगा जब डॉक्टर को मरीज की मर्ज के बारे में ही पता ना चल पाता हो. जी हां…ऐसा ही किस्सा एक ईरान में देखने को मिला. जहां एक महिला को अजीबोगरीब परेशानी से पीड़ित देखा गया. वैसे परेशानी तो ज्यादा बढ़ी नहीं थी लेकिन बड़ी बात तो ये थी डॉक्टर इस परेशानी को समझ ही नहीं पाये और फिर क्या ईरान की लड़की को इलाज के लिए भारत आना पड़ा.

दरअसल लड़की जब खाना खाती थी तो उसके गाल सूज जाते थे. गाल की सूजन भी ऐसी-वैसी नहीं थी बल्कि कुछ देर के लिए टिकी रहती थी. लड़की के गालों में दर्द भी होता था. दर्द ज्यादा होने के बाद लड़की खाना खाने से भी डरने लगी और इलाज के लिए डॉक्टर के पास पहुंची. जहां डॉक्टर ने उसके गालों की सर्जरी करने को बोला साथ ही ये भी कहा कि सर्जरी की वजह से गालों पर कोई ना कोई निशान भी जिंदगीभर के लिए रह सकता है. जिसके बाद तो लड़की और ज्यादा डर गई और उसने इलाज करवाने से मना कर दिया.

अब लड़की बिना इलाज के भी नहीं रह पा रही थी क्योंकि उसे खाना खाने में दिक्कत होने लगी थी. जिसके बाद लड़की को किसी ने भारत से इलाज कराने की सलाह दी. यहां डॉक्टरों ने जांच के दौरान बताया कि उसके लार ग्रंथि में पथरी हो गई. पथरी भी 2 या 4 नहीं बल्कि पूरी थैलीभर हो गईं थीं. अब बात थी कि डॉक्टर इस पथरी को निकालेंगे कैसे? क्योंकि अब तक डॉक्टरों ने  पेट, गुर्दे और कई जगह पथरी को होते देखा लेकिन पहली बार ही गालों में पथरी होने का मामला सामने आया है.

लड़की ने दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में इलाज करवाया, जिसके बाद डॉक्टरों ने बिना किसी निशान के लड़के के गालों से करीब 53 पत्थर निकाले. इलाज के बाद लड़की एकदम स्वस्थ्य और खुश है. डॉक्टरों का कहना है कि छह सेमी. लंबी और 3-4 सेमी. चौड़ी ग्रंथि से सभी पथरियों को निकालना आसान नहीं था लेकिन फिर भी इलाज सफल रहा.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY