उत्तराखंड- यौन उत्पीड़न में फंसा ये वरिष्ठ पुलिस अधिकारी, 6 दिन से मामला दबाने की कोशिश थी जारी

0
24
उत्तराखंड में महिला कांस्टेबल का यौन उत्पीड़न करने पर एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी का नाम सामने आया है. यौन उत्पीड़न के बाद से 6 दिन से पीड़ित महिला कांस्टेबल की आवाज दबाने की कोशिश की जा रही थी, इतना ही नहीं डिपार्टमेंट में कई लोगों को इस बात की जानकारी होने पर भी पुलिस अधिकारी पद पर तैनात रहा, क्योंकि इसके पीछे किसी मजबूत व्यक्ति का हाथ बताया जा रहा था. जानिए कौन है वो शख्स…
खबरों के अनुसार पता चला है कि पीड़ित महिला कांस्टेबल ने पुलिस अधिकारी के खिलाफ हरिद्वार पुलिस में शिकायत भी की लेकिन वहां महिला को कोई मदद ना मिलकर उसे केस वापस लेने का दबाव डाला गया. वहीं पता ये भी चला है कि वरिष्ठ पुलिस अधिकारी परीक्षित कुमार की मदद कोई और नहीं बल्कि आईजी कर रहे थे वो मामले को बंद कराने में पूरी कोशिश में लगे थे. यहां तक उन्होंने तो परीक्षित कुमारी की ताजपोशी की पैरवी भी पुलिस मुख्यालय में बड़े ही जोरदार ढंग से कर रहे थे.
ऐसे में बार-बार सवाल उठाये जा रहे हैं कि आखिर इतने दिनों से पुलिस अधिकारी को पद पर तैनात कैसे रखा जा सकता है. वहीं दूसरी तरफ लोग ये भी कह रहे हैं कि दूसरों की मदद करने वाले पुलिस अधिकारी जब अपने ही डिपार्टमेंट की महिलाओं को सुरक्षित नहीं रख पा रहे हैं तो आम महिलाओं की सुरक्षा की कैसे जिम्मेदारी ले सकते है.

LEAVE A REPLY