चाणक्य नीति के अनुसार जो लड़के लड़कियों में देखते हैं ये गुण वो हमेशा रहते हैं खुश

1600
5685

वैसे तो किसी भी व्यक्ति के माथे पर उसकी अच्छाईयां और बुराईयां नहीं लिखी होती हैं, इसलिए शायद वो एक-दूसरे को देखकर अपने रिश्तें को आगे बढ़ाते हैं. बाद में ये रिश्ता कितना अच्छा साबित होता है वो वहीं जानते होंगे. जब लड़का-लड़की एक-दूसरे को शादी के लिए देखते हैं तो सबसे पहले वो एक-दूसरे का रंग रूप पर नजर डालते हैं. कभी-कभी रंग-रूप की वजह से इंसान धोखा खा जाता है और उसका घर बर्बाद हो जाता है. एक अच्छे पति-पत्नी बनने के लिए सिर्फ रंग-रूप ही नहीं जरूरी है बल्कि कुछ चीजें भी जरूरी है. चाणक्य नीति के अनुसार अगर किसी लड़की में ये गुण नहीं होते हैं तो यकीनन उस रिश्तें को आगे बढ़ाना मुश्किल हो जाता है.

संस्कार-

किसी भी लड़की में संस्कार होना बहुत जरूरी होते हैं, उसके संस्कार ही उसे रिश्तें को निभाने में मदद करते हैं. संस्कारों से रिश्तों को जीता जा सकता है. अगर संस्कार नहीं होते हैं तो परिवार के लोग खुश नहीं रहते हैं और लड़ाई-झगड़े बढ़ते हैं. इसलिए अगर शादी के लिए लड़की देखने जाएं तो लड़की के संस्कारों पर जरूर नजर डालें.

धैर्य

धैर्य रखने वाली लड़की हमेशा अपने घर को चला ले जाती है, जिस लड़की में धैर्य नहीं होता है वो कभी अपने आपसे भी नहीं  जाती पाती है.धैर्य वाली लड़कियों से हमेशा उनके पति खुश रहते हैं और परिवार में उनका सम्मान होता है. गुस्से वाली लड़कियां हमेशा गलत फैसला लेती हैं और उनकी जिंदगी पर बुरा प्रभाव पड़ता है.

धर्म के मार्ग पर चलकर सेवा करना-

हर परिवार चाहता है कि उसके घर में उसकी बेटी-बहू धर्म का पालन करें, और अगर लड़की धर्म के मार्ग पर चलकर अपने कामों को अच्छी तरह कर लेती है तो वो लड़का के सबसे अच्छे गुणों में से एक होता है.

1600 COMMENTS