प्रसव के दौरान डॉक्टर ने बच्चे को इतनी जोर से बाहर खींचा कि जो निकला उसे देख परिवार वाले हैरान

0
16
भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर कब उनके ही जान के दुश्मन बन जाये कुछ कहा नहीं जा सकता. राजस्थान के रामगढ़ में गर्भवती महिला की डिलीवरी के वक्त डॉक्टर की जल्दबाजी के चलते नवजात का सिर अलग और धड़ अलग हो गया. आप अंदाजा भी नहीं लगा सकते हैं कि कभी-कभी डॉक्टर्स ना केवल किसी की जान ही ले लेते हैं, बल्कि अपने आप से बचने के लिए दूसरों को आरोपों के गड्ढे में ढकेल देते हैं ऐसा ही इस डॉक्टर ने किया.

गर्भवती महिला डिलीवरी के समय जब अस्पताल पहुंची तो वहां डॉक्टर ने बच्चे के पैर इतनी जोर से खींचे कि उसका सिर धड़ से अलग हो गया और सिर अंदर ही रह गया. इतना बड़ा कांड करने के बाद भी डॉक्टर ने बच्चे के सिर को निकालने के बजाये महिला की नाजुक हालत बताकर जैसलमेर रेफर कर दिया. महिला का परिवार जब दूसरे अस्पताल लेकर पहुंचा तो वहां डॉक्टर ने बताया कि महिला की डिलीवरी हो चुकी हैं लेकिन आंवल अंदर रह गया है इस पर उस अस्पताल ने भी महिला को जोधपुर ले जाने के लिए कहा.

जोधपुर ले जाने के बाद डॉक्टर्स ने प्रसब के दौरान बच्चे का सिर ही बाहर निकालकर दिया. जिसे देख परिवार वाले हैरान रह गये. प्रसव की बाद महिला की हालत बहुत नाजुक बताई जा रही है, महिला का अभी इलाज ही चल रहा है. फिलहाल तो परिवार बच्चे का सिर लेकर थाने पहुंच गये हैं जहां उन्होंने अस्पताल के डॉक्टर की लारवाही का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया.

 

LEAVE A REPLY