महीने में लाखों रुपये कमाने वाला ये शख्स पहनता था फटे जूते, मरने के बाद सामने आई पूरी सच्चाई

0
60

सोशल मीडिया पर अक्सर दिग्गज व्यक्ति या फिर अपनी हुनर में काबिलियत रखने वाला व्यक्ति सुर्खियों में रहते हैं, लेकिन आज हम आपको कोई दिग्गज या मशहूर व्यक्ति को नहीं बल्कि एक कंजूस व्यक्ति के बारे में बताने जा रहे हैं, जो व्यक्ति अपने ऊपर एक रुपया नहीं खर्च करता हो वो दूसरे पर खर्च करने के लिए सोच भी नहीं सकता है. आज हम आपको एक ऐसे ही व्यक्ति के बारे में बताने जा रहें हैं जो कंजूस जरूर हैं, लेकिन उसकी महीने की कमाई सुनकर आप भी दंग रह जायेंगे. दरअसल अमेरिका के वाशिंगटन में रहने वाले एलेन नैमन महीने में करीब 48 लाख रुपये कमाते हैं लेकिन अपने ऊपर कभी वो एक रुपया भी नहीं खर्च करते हैं, क्योंकि एलेन का परिवार में ना ही कोई है और ना ही वो किसी से बोलचाल पसंद करते हैं. ऐसे में पिछले साल जब उनका निधन हुआ तो उनकी पार्टी पर नजर डाली गई. उसके बाद जो नजारा सामने आया वो वाकई में हैरान करने वाला था.

एलेन की मौत के बाद जब उनके वकील ने उनकी वसीयत पढ़ी तो उसमें 11 मिलियन डॉलर यानी करीब 77 करोड़ रुपये की प्रॉपर्टी गरीब बच्चे के नाम पर की गई है. एलेन का वसीयत देख हर किसी की आंखों में आंसू भर आये कि जिस व्यक्ति को लोगों ने जिंदगी भर कंजूस की नजर में देखा उसका असली चेहरा अब सामने आया. वसीयत के साथ ये भी पता चला कि एलेन अब तक रुपये सिर्फ और सिर्फ अनाथ, गरीब, बीमार, बेसहारा बच्चों के लिए बचा रहे थे.

एलेन एक समय में तीन-तीन नौकरियां करके इतना पैसा कमाते थे लेकिन कभी खर्च नहीं करते थे. वो इतने कंजूस थे कि वो फटा जूता तक कई सालों तक पहने रहते थे, जूता ज्यादा फटने पर वो टेप चिपका लेते थे लेकिन इतने पैसे होने पर वो कभी दूसरा जूता नहीं खरीदते थे.

एलेन ने मरने से पहले अपनी सारी प्रॉपर्टी अलग-अलग फील्ड से जुड़ी संस्थाओं को दान करके गया. जिसमें अनाथालय, हॉस्पिटल्स और वृद्धाश्रम जैसी संस्थाएं शामिल है. बच्चों के एक हॉस्पिटल में उन्होंने 2.5 यानी 17.5 करोड़ रुपये दान में देकर चला गया. एलेन जिन-जिन संस्थाओं को दान देकर गया और उनसे उनका कोई लेना-देना नहीं था. एलेन ने जिंदगीभर दूसरों के लिए सोचा और दूसरों के लिए अपने दिमाग से पैसा कमाते थे.

LEAVE A REPLY