घर में तुलसी हैं तो भूलकर भी ना करें ये गलती, नहीं तो कंंगाल हो जायेंगे

1
274

हिंदू धर्म में तुसली के पौधे को बहुत पवित्र माना जाता है. तुलसी के पौधे को मां के रूप में पूजा जाता है. हर घर में रोज सुबह तुलसी को जल चढ़ाकर उनके पास दीपक जलाया जाता है. कहा जाता है जिन घरों में तुलसी का पौधा होता है वहां सकारात्मक ऊर्जा रहती है कभी बुरी नजर घर के पास भी नहीं भटकती है. तुसली का पौधा घर में सुख-शांति और समृद्धि लाने के अलावा कई बीमारियों के लिए भी रामबाण औषधी है. जिन घरों में तुलसी का पौधा होता है वहां साफ-सफाई का खास ध्यान रखा जाता है. साथ ही तुसली को छूने का भी ध्यान रखा जाता है. जैसा कि जानते ही हैं कि तुलसी को हर दिन नहीं छूआ जा सकता है. ऐसा करने से तुलसी मां नराज हो सकती हैं.

 

तुलसी की पूजा करने वाले व्यक्ति को शौभाग्य की प्राप्ति होती है, इसलिए महिलाओं को तो खासकर तुलसी मां की पूजा करनी चाहिए, लेकिन ध्यान रहे कि एकादशी, रविवार, सूर्य ग्रहण और चंद्र ग्रहण के समय तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए. ऐसा करना अशुभ होता है. कहा जाता है कि इन दिनों पर तुलसी का पौधा तोड़ने से घर में दरिद्रता आती है. कलेश होते हैं. घर की सुख, शांति और समृद्धि चली जाती है.

 

गौर किया होगा आपने कि कभी-कभी तुलसी का पौधा झड़ जाता है, या फिर पत्तियां जल सी जाती हैं. जब भी घर में कोई मुसीबत आने को होती है तो तुलसी के पौधे से ऐसे संकेत मिलते हैं, इसलिए तुलसी का पत्ते तोड़ने से पहले एक बाद दिन पर जरूर ध्यान रखें.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY