लाल किताब की ये 3 बातें मान ली तो देवता खुद करेंगे आपकी मदद

1
39
कई लोग लाल किताब को धर्मिक रामायण से कम नहीं मानते हैं, इतना ही नहीं वो लोग तो इस लाल किताब द्वारा बताये गये असूलों पर भी चलते हैं. लोगों का मानना होता है कि अगर इस लाल किताब के उसूलों को मान लिया तो कभी व्यक्ति परेशान नहीं हो सकता है और ना ही उस व्यक्ति को सुख, शांति के लिए किसी ज्योतिष के पास जाने की जरूरत होगी. जानिए लाल किताब में ऐसा क्या लिखा होता है, जिनका कई लोग पालन करते हैं और खुश रहते हैं.

झूठ बोलने पर-

लाल किताब के अनुसार कुंडली का दूसरा खाना बोलने और तीसरा खाना बोलने की कला से संबंध रखता है। पहला आपके पास क्या है और दूसरा आप उससे क्या कर सकते हैं? इससे संबंध रखता है. यदि आप झूठ बोलते हैं तो दूसरे और तीसरे भाव अर्थात खाने में अपने आप ही गलत असर चला जाता है.

गलत काम में साथ ना दें-

अगर आपको कोई झूठ बोलने पर अपना आपको बचाता है तो आप भी उसी पाप के भागीदार हो जाते हैं. हां अगर आपके आगे मजबूरी है तब आप झूठ बोलकर किसी की जान बचा सकते हैं लेकिन अगर आप अपने मजे में दूसरों का गलत काम में साथ दे रहे हैं तो इससे आप पर बुरा असर पड़ने लगता है.

गलत भाषा का इस्तेमाल करना- 

अक्सर लोग छोटे-छोटे काम में अपने से छोटे लोगों से गलत भाषा का इस्तेमाल करते हैं. गलत भाषा से व्यक्ति का अहंकार साफ नजर आता है. दूसरे व्यक्ति को नीच दिखाने में गलत भाषा का इस्तेमाल करने वाले व्यक्ति कभी सफल नहीं होते हैं. मुंह से गलत शब्दों को नहीं निकालना चाहिए क्योंकि कहा जाता है 24 घंटे में एक बार जुवान पर सरस्वती मां का वास होता है.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY