उत्तराखंड- पहाड़ों का नजारा लेने गये हजारों लोग बूंद-बूंद पानी को तरसे, एक रात गुजारने के लिए भटक रहे हैं

1
151

उत्तराखंड में पहाड़ों का नजारा लेने के लिए लगातार पर्यटकों की भीड़ होती जा रही है और वहां पहुंचते ही पर्यटक मुसीबत में फंसते जा रहे हैं. पर्यटकों का अंदाजा भी नहीं था कि इस बार उन्हें खूबसूरत वादियों में इतनी मुसीबत का सामना करना पड़ेगा. एक तरफ भीषण गर्मी दूसरी तरफ बढ़ती भीड़ की वजह से सड़कों पर जाम लग गया और लोगों को ना ही रहने की जगह मिल रही है और ना ही खाने-पीने की सही जगह मिल रही है. पर्यटकों की इस मुसीबत का फायदा दुकानदार उठा रहे हैं.

जी हां…बढ़ती भीड़ की वजह से होटलों ने खाने-पीने और रुकने के तीन गुना रेट बढ़ा दिये हैं. लोगों का कहना है कि जो पानी की बोतल 10 रुपये में मिलती है वो 30 में दुकानदार दे रहे हैं, लिहाजा लोगों को पानी पीने के लिए भी जेब ढिली करनी पड़ रही है. डीआईजी यातायात केवल खुराना ने बताया कि मसूरी में क्षमता से अधिक वाहन पहुंचने के कारण भारी दिक्कत हो रही है. इसी को देखते हुए सुबह 30 कांस्टेबल, सात दरोगा और 10 होमगार्ड के जवान अतिरिक्त भेजे गए.

 

मसूरी घूमने आये पर्यटकों का कहना है कि काफी देर तक सभी जगह ढूंढने पर कोई होटल खाली नहीं मिला. एक रात गुजराने के लिए जब एक शख्स से बात हुई तो उसने एक होटल का पता बताया. वहां पहुंचे तो होटल के रूम पर 3500 रुपये किराया लिखा था लेकिन होटल मालिक ने साढ़े 6 हजार रुपये एक दिन के मांगे. पर्यटक ने बताया कि वहां बहुत से ऐसे पर्यटक थे जो कई गुना दाम देकर होटल में ठहरे हुए थे.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY